Monday, April 4, 2011

कसौटी


तुम जो दिल लगाकर चले गए
तुमसे बस यही है गिला
कसौटियों को इतनी ऊंची कर गए
तुम्हारे बाद, फिर कोई न मिला

3 comments:

  1. these four lines say a lot!!!good one.

    ReplyDelete
  2. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  3. तुम तो दिल लगा के चले गए, तुमसे तो बस यही है गिला,
    कसौटियों को इतनी ऊंची कर गए, तुम्‍हारे बाद कोई भी नहीं मिला ।

    प्रथम प्रेम ही होता है एंसा, कि नहीं बन सकता कोई उसके जैसा,
    इसलिए यदि कसौटियों पर कोई सही भी उतरता,
    तो वो तुम्‍हारे दिल में नहीं उतरता ।

    प्रेम को कसौटियों पर न मापो, यह तो आत्‍मा की आवाज होती है,
    जो इसे सुन लेता है एक बार, वो उसका ही हो जाता है ।

    राधा ने कृष्‍ण के लिए कोई कसौटियां नहीं बनाई थी,
    आत्‍मा की आवाज पर ही वो उनका हो गई थी ।

    इसलिए प्‍यार को कसौटियों पर कसोगी, तो प्रेम की नाजुक डोर चटक जाएगी,
    और वह यदि एक बार चटक गई तो, फिर से जुड़ नहीं पाएगी ।

    ReplyDelete